Punjab

चार अंको बाली लाटरी बंद करे अकाली भाजपा सरकार , पंजाब को जुए का अड्डा न बनाये : मान

December 21, 2016 07:28 PM
चंडीगढ़:आम आदमी पार्टी ने अकाली-भाजपा सरकार को चेतावनी दी है कि सरकार अपनी आमदन बढ़ाने के लिए पंजाब में चार अक्षरों वाली लाटरी को चलाने की इजाजत दे कर जूए का गढ़ बना रखा है । 

मान ने कहा कि अकाली-भाजपा सरकार ने चार अक्षरों वाली लाटरी से टैक्स घटा दिया है और लाटरी चलाने वालों से 15 -15 लाख रुपए सक्योरटी के तौर पर एडवांस लिए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि सूबा सरकार 1850 करोड़ रुपए की देनदारियों के कारण पंजाब में जूए के कारोबार को बढ़ावा देना चाहती है। उन्होंने कहा कि यह बहुत शर्म की बात है कि बादल सरकार अपने कर्मचारियों के वेतन के एरियर और डीए देने के लिए लाटरियों से कमाऐ पैसों का प्रयोग करना चाहती है। 

आम आदमी पार्टी के चुनाव प्रचार मुहिम के प्रमुख भगवंत मान ने कहा कि आम आदमी पार्टी नौजवानों के भविष्य को तबाह करने वाले अकाली-भाजपा सरकार के ऐसे कारनामों को कभी भी बर्दाश्त नहीं करेगी। उन्होंने कहा कि शिरोमणी अकाली दल और भाजपा सरकार की तरफ से नौजवानों को नशे की दलदल में धकेल कर पहले ही बर्बाद किया जा चुका है। उन्होंने कहा कि पंजाब के नौजवानों को बेरोजगारी के कारण अपना भविष्य धुंधला नजर आ रहा है और नौजवानों को जूए की तरफ प्रेरित करना उनका सब से बड़ा नुक्सान है। 
मान ने कहा कि अकाली-भाजपा सरकार ने चार अक्षरों वाली लाटरी से टैक्स घटा दिया है और लाटरी चलाने वालों से 15 -15 लाख रुपए सक्योरटी के तौर पर एडवांस लिए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि सूबा सरकार 1850 करोड़ रुपए की देनदारियों के कारण पंजाब में जूए के कारोबार को बढ़ावा देना चाहती है। उन्होंने कहा कि यह बहुत शर्म की बात है कि बादल सरकार अपने कर्मचारियों के वेतन के एरियर और डीए देने के लिए लाटरियों से कमाऐ पैसों का प्रयोग करना चाहती है। 
मान ने कहा कि पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट ने भी इस बात का नोटिस लिया कि पंजाब की तरफ से मशहूरी के लिए पैसों की बर्बादी की जा रही है और इस से अपने कर्मचारियों को देने के लिए भी पैसा नहीं है। उन्होंने कहा कि पंजाब सरकार की तरफ से पैंशनधारकों का 319 करोड़ रुपए का बकाया भी नहीं दिया गया। 
मान ने कहा कि पंजाब सरकार की तरफ से पहले ही अपनी, लाटरियां चलाईं जा रही हैं और राजनैतिक सरप्रस्ती तले बहुत सी ओर गैर -कानूनी लाटरियां भी चल रही हैं। उन्होंने कहा कि पहले ही एक अक्षर वाली लाटरियों ने पंजाब में जूए को बढ़ावा दिया है और मिला दड़ा-सट्टा भी जोरों-शोरों के साथ चल रहा है। मान ने कहा कि सामाजिक कामों के लिए लाटरी से कमाऐ पैसों का इस्तेमाल नहीं किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि इस के साथ नौजवान जूए की तरफ आकर्षित होते हैं और नशों के जाल में फंस जाते हैं। 
मान ने कहा कि आम आदमी पार्टी की सरकार बनने पर गैर -कानूनी लाटरी और अन्य ऐसी जूए वाली गतिविधियां जिनका समाज पर प्रभाव पड़ता हो, उनको बंद करवा दिया जाएगा। उन्होंने मांग की है कि सूबे में से चार अक्षरों वाली और ओर गैरकानून्नी लाटरियां जैसे कि मणीपुर लाटरी आदि को तुरंत बंद किया जाए। 
मान ने कहा कि अकाली-भाजपा सरकार ने पंजाब को एक बड़े घाटे में धकेल दिया है और पंजाब के सिर पर अब 1.50 लाख करोड़ का कर्ज है। उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार के पास अपने कर्मचारियों को वेतन, शगुन स्कीम के लिए राशि, बुढापा पैंशन और गरीबों के लिए शुरू की गई आटा -दाल स्कीम के लिए पैसा नहीं है। उन्होंने कहा कि सूबे की मौजूदा हालत के लिए सिर्फ अकाली -भाजपा सरकार ही जिम्मेदार है। 
मान ने कहा कि रेता बजरी के गैर-कानूनी कारोबारियों और गैर-कानूनी ट्रांसपोर्टरों की तरफ से पहले ही पंजाब में हर तरह के कारोबार पर कब्जा कर लिया गया है और यदि यह ठेके कानूनी ढंग के साथ दिए जाते तो इन पैसों के साथ खजाने को काफी लाभ हो सकता था। उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी की सरकार गैर-कानूनी तरीके से चलाए जा रहे सभी कारोबारों को बंद करवाएगी और दोषियों को जेलों में फेंका जाएगा।
Have something to say? Post your comment