National

बंजार के शाईरोपा में मनाया जायेगा world Heritage उत्सव

February 04, 2017 01:13 PM
दौलत भारती

बंजार 

बंजार के शाईरोपा के ग्रेट हिमालयन नेशनल पार्क के सुचना केंद्र ने आगामी 11 -12 फ़रवरी को दो दिवसीय हेरिटेज उत्सव का आयोजन किया जा रहा है .दो दिवसीय इस आयोजन में जहाँ विदेशों के प्रकृति प्रेमी एवं पर्यावरण से जुड़े पत्रकार और लेखको के साथ -साथ स्थानीय मिडिया भी मंथन करेगा .

हेरिटेज उत्सव के दौरान दुनिया भर से आने बाले मीडिया के साथ साथ स्थानीय मीडिया को भी इस आयोजन में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया गया है . भारतीय वन्य जीव संस्थान देहरादून द्वारा आयोजी इस कार्यक्रम में प्रकृति प्रेनी लेखक] कवि , गीतकार तथा अन्य कलाकारों से भी इस में शामिल होने को कहा गया है . बहरहाल इस आयोजन के बाद GHNP को दुनिया भर में और ज्यादा सम्मान मिलने कि उमीद है .अधिक जानकारी के लिए पार्क प्रबंधन से भी संपर्क साध सकते हैं 

भारतीय वन्यजीव संस्थान देहरादून द्वारा आयोजित दो दिवसीय हेरिटेज उत्सव के दौरान सांस्कृतिक कार्यक्रमों  लोक कलाओं भाषा  एवं  हस्तशिल्प आदि विभिन्न विषयों का समावेश रहेगा . उत्सव का मुख्य उदेश्य इस क्षेत्र का प्रचार प्रसार करना है ताकि दुनिया भर से आगुंतक यहां की प्रकृति से रूबरू होने के लिए कदम धर सकें.

ग्रेट हिमालयन नेशनल पार्क के डीएफओ डॉ कृपाशंकर एम कहते हैं कि हेरिटेज बनने के बाद यह आयोजन पहली बार हो रहा है सबसे बड़ी बात यह है कि इसमें दुनिया भर से आए मीडिया और स्थानीय मीडिया का आपसी संवाद स्थापित होगा जिससे पार्क  को लेकर दुनियाभर में प्रचार-प्रसार होगा. गौरतलब है कि 25 जून 2014 को कतर की राजधानी दोहा में ग्रेट हिमालयन नेशनल पार्क को विश्व धरोहरों की सूची में शुमार किया  गया था.

 

करीब 95400 हेक्टेयर वर्ग किलोमीटर में फैला ग्रेट हिमालयन नेशनल पार्क जैव विविधता की दृष्टि से दुनिया के श्रेष्ठ पार्कों में से एक माना जाता है. स्थानीय जनमानस द्वारा पीढ़ी-दर-पीढ़ी परंपरागत तरीके से सहेजा गया यह नेशनल पार्क पश्चिमी हिमालय का वह भूखंड है जहां वेस्टर्न ट्रैगोपन यानी विलुप्त होने के कगार पर खड़ा दुनिया के सबसे सुंदर परिंदा जैजू राणा यही पाया जाता है और बहुतायत में पाया जाता है.

कोक्लास कलीज़ आदि कई परिंदों के अलाबा ghoral, काला भालू , लाल भालू, बर्फानी तेंदुआ , कस्तूरी मृग जैसे बिलुप्त्त्ता के कगार पर असंख्य पशु पक्षियों कि प्रजातियाँ यहाँ पाई जाती है . बिलुत होने के कगार पर कई बनने औषधियों बंन बनस्पति की लुप्त होने की कगार पर खड़ी प्रजातियां यहां उपलब्ध है

Have something to say? Post your comment