Apna Himachal

चार वर्षों में बंजार में हुए रिकार्ड विकास कार्य कर्ण सिंह का दावा

February 03, 2017 02:09 PM
कुल्लू:
   आयुर्वेद एवं सहकारिता मंत्री कर्ण सिंह ने कहा है कि चार वर्षों के दौरान बंजार विधानसभा क्षेत्र में रिकार्ड विकास कार्य किए गए हैं और नए वित वर्ष के लिए भी करोड़ों रुपये की विकास योजनाओं के प्रस्ताव तैयार किए गए हैं।

नए वित वर्ष के लिए अपनी प्राथमिकताएं गिनाते हुए कर्ण सिंह ने बताया कि लारजी झील को पर्यटन की दृष्टि से विकसित किया जाएगा। यहां वाटर स्पोट्र्स और मत्स्य पालन की संभावनाएं तलाशी जाएंगी। इसमें स्थानीय युवाओं को स्वरोजगार मुहैया करवाया जाएगा। सैंज व तीर्थन घाटी और जीभी-जलोड़ी के खूबसूरत स्थलों को पर्यटन मानचित्र पर लाया जाएगा। बजौरा में 50 बिस्तरों के आयुर्वेद अस्पताल व हर्बल गार्डन की स्थापना की जाएगी। 

शुक्रवार को सर्किट हाउस कुल्लू में पत्रकार वार्ता के दौरान कर्ण सिंह ने बताया कि प्रदेश सरकार ने बंजार के चहुमुखी विकास के लिए किसी भी तरह की कमी नहीं रखी है। क्षेत्र को दो नए कालेज, तीन दर्जन से अधिक स्कूलों का अपग्रेडेशन, लारजी में अग्निशमन केंद्र, बंजार में मिनी सचिवालय, पीडब्ल्यूडी डिवीजन व कई अन्य महत्वपूर्ण सुविधाएं वर्तमान प्रदेश सरकार के कार्यकाल में ही दी गई हैं।  
  नए वित वर्ष के लिए अपनी प्राथमिकताएं गिनाते हुए कर्ण सिंह ने बताया कि लारजी झील को पर्यटन की दृष्टि से विकसित किया जाएगा। यहां वाटर स्पोट्र्स और मत्स्य पालन की संभावनाएं तलाशी जाएंगी। इसमें स्थानीय युवाओं को स्वरोजगार मुहैया करवाया जाएगा। सैंज व तीर्थन घाटी और जीभी-जलोड़ी के खूबसूरत स्थलों को पर्यटन मानचित्र पर लाया जाएगा। बजौरा में 50 बिस्तरों के आयुर्वेद अस्पताल व हर्बल गार्डन की स्थापना की जाएगी। 
  आयुर्वेद मंत्री ने बताया कि गुशैणी-पलचान सड़क, तलाड़ा-कुलागाड़, फागला-रैला-पाशी और लांगणी-छुआरा सड़का को उन्होंने नए वित वर्ष की प्राथमिकताओं में शामिल किया है। पेयजल योजना ज्येष्ठा, मंझली व पारली, पेयजल योजना हिड़ब, सजवाड़, सरठी, जीभी, तांदी, घियागी, सेरी, लोटला, सरची व बंदल का संवर्द्धन, पेयजल योजना देउरी, सपांगणी, कनौन, फागला, पुखरी, देवगढ़गोही को भी प्राथमिकता दी गई है।
    बहाव सिंचाई योजना शैंशर व देउरी, उठाउ सिंचाई योजना पालगी, धारा, माहुण, खोड़ाआगे व नरौल, लघु सिंचाई योजना हाट बजौरा बहाव सिंचाई योजना जीभी, घियागी, खेरागढ़, कोठी चैहणी, पेयजल योजना धाउगी रोवाड़ और पेयजल योजना नगलाड़ी, गुशैणी के लिए भी नए बजट में धनराशि का प्रावधान करवाया जाएगा। सपांगणी-कंडा सड़क को पक्का करने का कार्य भी जल्द आरंभ किया जाएगा। 
  प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र थाटीबीड़, स्वास्थ्य उप केंद्र शरची, सीनियर सेकेंडरी स्कूल देउरी, सीनियर सेकेंडरी स्कूल शांघड़, आयुर्वेदिक केंद्र पलाहच, पशु चिकित्सालय गुशैणी और पशु औषधालय गोशाला के भवन का निर्माण किया जाएगा। इनके अलावा करोड़ो रुपये की कई अन्य योजनाओं की डीपीआर भी तैयार की जा रही है। 
   कर्ण सिंह ने बताया कि पर्यटन सीजन के दौरान बंजार, कुल्लू, मणिकर्ण और मनाली की सड़कों पर यातायात को सुचारू बनाए रखने के लिए विशेष कदम उठाए जाएंगे। तीर्थन घाटी में हामणी के ट्राउट फार्म को जल्द आरंभ करने के लिए मत्स्य पालन विभाग के अधिकारियों को कड़े निर्देश दिए गए हैं। इस मौके पर आयुर्वेद मंत्री के साथ जिला कांग्रेस के महासचिव जय बिहारी लाल ठाकुर भी उपस्थित थे।  
Have something to say? Post your comment