States

2017 के स्वागत का जश्न मनाने मनाली पहुंचे सैलानी

January 01, 2017 03:24 PM

मनाली:पर्यटन नगरी मनाली के माल रोड पर न्यू ईयर इव को लेकर दिन भर सैलानियों से रौनक छाई रही। 2016 की बिदाई और 2017 के स्वागत का जश्न मनाने मनाली पहुंचे सैलानियों से माल रोड खचाखच भरा रहा। व्हाइट न्यू ईयर की उम्मीद लेकर मनाली पहुंचे सैलानियों को इस बार निराशा ही हाथ लगी है। बर्फबारी की उम्मीद लेकर वे गुलाबा और सोलंग की पहाडिय़ों में जा पहुंचे लेकिन बर्फबारी न होने से वे मायूस दिखे। सैलानी नव वर्ष के जश्न का आनंद ले सके इसके लिए पुलिस ने विशेष व्यवस्था कर रखी है। कहीं कुल्लवी नाटी तो कहीं डीजे की धुन पर सैलानियों ने नाचते व गाते हुए साल को विदा किया।

कार्निवाल कमेटी ने सैलानियों की नव वर्ष संध्या को रंगीन बनाने के लिए माल रोड में सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किए। वायस आफ विंटर कार्निवाल में धमाल मचाने वाले नालागढ़ से उमाकांत तिवारी, हमीरपुर से दिव्या डोगरा, मंडी से मुकुल शर्मा, सुरेश कुमार, इंद्रजीत और पधर से सुब्रत शर्मा ने खूब समा बांधा। उन्होंने पहाड़ी, पंजाबी और फिल्मी गाने गाकर दर्शकों को नचाया। पर्यटक देर शाम तक मनाली माल में डांस करते रहे।

 मनाली के दर्जनों स्तरीय होटलों में विशेष आकर्षक के तौर पर बोन फायर के बीच कुल्लवी नाटी का आयोजन कर ठंडे माहौल को गर्मा दिया। नव वर्ष को उमड़े जन सैलाब ने पर्यटन नगरी मनाली के सभी पर्यटन स्थलों पर रौनक लगाए रखी। माता हडि़ंबा परिसर, मनु महाराज मंदिर, वशिष्ठ, सोलंग और स्नो प्वाइंट गुलाबा की वादियों में दिन भर सैलानियों का जमघट लगा रहा। हालांकि वाहनों की संख्या च्यादा रहने के चलते स्नो प्वाइंट सोलंगनाला व गुलाबा से मनाली तक भारी ट्रैफिक जाम लगा रहा जिससे सैलानियों को भारी दिक्कतों का सामना भी करना पड़ा। पुलिस के जवानों को दिन भर खूब माथा पेची करनी पड़ी। इधर, शाम होते ही मनाली के सभी होटलों में खूब धूम मची रही। एक तरफ जहां स्तरीय होटलों में डीजे सहित कुल्लवी नाटी ने सैलानियों को नचाया वहीं, पर्यटन निगम मनाली के क्लब हाउस में जश्न का माहौल रहा। क्लब हाउस मनाली के एजीएम बाली ने बताया कि न्यू ईयर इव की संध्या पर भी क्लब हाउस में सैलानियों ने खूब मस्ती की। उन्होंने कहा कि देर रात न्यू ईयर क्वीन का चयन किया जाएगा जो सबसे आकर्षक होगा। दूसरी ओर मनाली के सभी स्तरीय होटलों में खूब रौनक लगी रही। सैलानी देर शाम तक डीजे व कुल्लवी यंत्रों की धुन पर नाचते रहे।

Have something to say? Post your comment