States

मुख्यमंत्री ने 37 करोड़ की विकास योजनाओं के किए लोकार्पण

December 30, 2016 07:36 PM

 कण्डाघाट: मुख्यमंत्री  वीरभद्र सिंह आज सोलन जिला के कण्डाघाट में क्षेत्र के लिए 37 करोड़ रुपये की विभिन्न विकासात्मक परियोजनाओं के लोकार्पण तथा शिलान्यास किए। उन्होंने आंजी में पशु औषधालय, कुफ्टू के लिए स्वास्थ्य उप केन्द्र तथा माध्यमिक पाठशाला दधोग को उच्च पाठशाला स्तरोन्नत करने और राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला देलगी में विज्ञान खण्ड के निर्माण की घोषणाएं कीं। उन्होंने माही-करोला सड़क तथा अश्वनी खड्ड होते हुए चायल-झाजा को पक्का करने की घोषणा के अलावा मालगा गांव के लिए पेयजल आपूर्ति योजना स्वीकृत की।
 वीरभद्र सिंह ने कहा कि सरकार नौणी में सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र खोलने की मांग पर विचार करेगी। उन्होंने खुशी जाहिर की कि सोलन जिला समूचे राज्य के साथ विकास के मार्ग पर तेजी के साथ आगे बढ़ा है। उन्होंने कहा कि जिले के किसानों ने बड़े पैमाने पर पुष्प उत्पादन तथा बेमौसमी सब्जियों की खेती को अपनाया है, जिसके फलस्वरूप उनकी आर्थिकी में आशातीत सुधार हुआ है।
उन्होंने कहा कि जिले में अनेक सड़कों का निर्माण किया गया है, जिनसे विकास एवं खुशहाली के नए द्वार खुले हैं, और  कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि विपक्ष के कुछ नेता कंडाघाट में नए अस्पताल के स्थल का विरोध कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि यह लोग विकास विरोधी हैं और जन विरोधी भी। उन्होंने ऐसे तत्वों को सचेत करते हुए कहा कि सरकार विकास कार्यों में बाधा उत्पन्न करने वाले ऐसे तत्वों से सख्ती से निपटेगी।
उन्होंने इस अवसर पर कंडाघाट विकास खण्ड की ग्राम पंचायत श्रीनगर का कलेण्डर भी जारी किया। 

उन्होंने कहा कि जिले में अनेक सड़कों का निर्माण किया गया है, जिनसे विकास एवं खुशहाली के नए द्वार खुले हैं, और  कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि विपक्ष के कुछ नेता कंडाघाट में नए अस्पताल के स्थल का विरोध कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि यह लोग विकास विरोधी हैं और जन विरोधी भी। उन्होंने ऐसे तत्वों को सचेत करते हुए कहा कि सरकार विकास कार्यों में बाधा उत्पन्न करने वाले ऐसे तत्वों से सख्ती से निपटेगी।


इससे पूर्व, मुख्यमंत्री ने कण्डाघाट में 1.10 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला के नए भवन, 2.10 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित पॉलीटेक्निक कॉलेज कण्डाघाट के छात्रावास तथा ग्राम पंचायत श्रीनगर, बीशा, माही, क्वारग तथा छौसा के निवासियों के लिए 3.81 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित उठाऊ पेयजल योजना का लोकार्पण किया। उन्होंने कण्ड़ाघाट में राजकीय डिग्री कॉलेज तथा सब्जी मण्डी की आधारशिला भी रखी।
इससे पहले  वीरभद्र सिंह ने चायल में 5 ग्राम पंचायतों सकोड़ी, झाझा, धंगील, हिन्नर तथा बांझणी के लिए चार करोड़ रुपये की लागत से निर्मित जलापूर्ति योजना का भी उदघाटन किया। इन पंचायतों के लगभग 5200 लोग लाभान्वित होंगे। उन्होंने 19 करोड़ रुपये की लागत से 29 किलोमीटर लम्बे चायल गौड़ा सड़क को चौड़ा करने तथा इसके सुधार की आधारशिला भी रखी।
सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री डॉ. कर्नल धनी राम शांडिल ने कहा कि सत्तासीन रही कांग्रेस सरकारों ने राज्य का तीव्र एवं सर्वांगीण विकास सुनिश्चित बनाया है और इसका श्रेय  वीरभद्र सिंह के कुशल एवं दूरदर्शी सोच को जाता है, जो रिकार्ड छठी बार राज्य सरकार का नेतृत्व कर रहे हैं।
एपीएमसी सोलन के अध्यक्ष  रमेश ठाकुर ने मुख्यमंत्री का स्वागत किया। उन्होंने मुख्यमंत्री का गत चार वर्षों के दौरान सोलन जिला का समग्र विकास सुनिश्चित बनाने के लिए आभार व्यक्त किया।
राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष जैनब चंदेल, राज्य कांग्रेस पार्टी की महासचिव  विनोद सुलतानपुरी तथा सोलन जिला कांग्रेस के महासचिव  शिवदत्त ने भी इस अवसर पर सम्बोधित किया।
सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य मंत्री श्रीमती विद्या स्टोक्स, परिवहन एवं तकनीकी शिक्षा मंत्री जी.एस. बाली, हि.प्र. खादी बोर्ड के उपाध्यक्ष  रमेश चौहान, जिला कांग्रेस समिति के अध्यक्ष  राहुल ठाकुर भी इस अवसर पर उपस्थित थे।

Have something to say? Post your comment