National

सेब सीजन के दृष्टिगत राष्ट्रीय राजमार्ग को सुचारू रखने के निर्देश

August 20, 2017 11:42 AM

सोलन
मुख्य सचिव वी.सी. फारका ने भारतीय राष्ट्रीय उच्च मार्ग प्राधिकरण को निर्देश दिए हैं कि सेब सीजन के दृष्टिगत शिमला-परवाणु राष्ट्रीय राज मार्ग को पूर्ण रूप से सुचारू रखा जाए। मुख्य सचिव गत सांय सोलन में सभी विभागों के साथ आयोजित समीक्षा बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे।
वी.सी. फारका ने कहा कि हिमाचल प्रदेश की आर्थिकी में सेब का महत्वपूर्ण योगदान है।

बैठक में समाज कल्याण की ओर से अवगत करवाया गया कि जिले में वर्तमान में 20,114 पात्र व्यक्तियों को सामाजिक सुरक्षा पैंशन प्रदान की जा रही है। इनमें से 20,000 पैंशनरों के खाते विभिन्न डाकघरों में खोले जा चुके हैं।
मुख्य सचिव ने निर्देश दिए कि सभी पैंशनरों के खाते शीघ्र खोले जाएं तथा यह सुनिश्चित बनाया जाए कि सभी को सामाजिक सुरक्षा पैंशन समय पर प्राप्त हो। उन्होंने निर्देश दिए कि 0-5 वर्ष आयु वर्ग के बच्चों के आधार कार्ड शतप्रतिशत बनाए जाएं।

सेब सीजन के दौरान सेब की अधिकांश आवाजाही शिमला-परवाणु राष्ट्रीय राज मार्ग पर होती है। उन्होंने कहा कि सुचारू सेब सीजन के लिए आवश्यक है कि राष्ट्रीय राज मार्ग-5 को यातायात के लिए पूरी तरह खुला रखा जाए। उन्होंने प्राधिकरण के अधिकारियों को निर्देश दिए कि सड़क पर पड़ी निर्माण सामग्री को हटाया जाए ताकि यातायात बाधित न हो। उन्होंने कहा कि फोर-लेन कार्य के दृष्टिगत यह ध्यान रखा जाए कि कृषि योग्य भूमि एवं ग्रामीणों की जमीन को कोई नुकसान न हो।
उन्होंने निर्देश दिए कि फोर-लेन कार्य में पहाड़ी क्षेत्र की भौगोलिक एवं भू-गर्भीय स्थितियों का ध्यान रखा जाए। उन्होंने सम्बन्धित उप मंडलाधिकारियों को निर्देश दिए कि फोर-लेन के लिए भूमि अधिग्रहण के विभिन्न मामलों को शीघ्र निपटाएं। उन्होंने जिला प्रशासन को निर्देश दिए कि निर्माण कार्य के दृष्टिगत बनाए गए वैकल्पिक मार्गों को शीघ्र चौड़ा किया जाए।
वी.सी. फारका ने सभी विभागों को निर्देश दिए कि विभिन्न केन्द्रीय योजनाओं एवं राज्य स्तरीय योजनाओं के लिए उपलब्ध राशि का नियत समय पर उपयोग किया जाए ताकि विभिन्न विकास कार्य समय पर पूरे हो सकें। उन्होंने लोक निर्माण विभाग को निर्देश दिए कि विभिन्न निर्माण कार्यों में गुणवत्ता एवं समयसीमा का पूरा ध्यान रखा जाए।
बैठक में समाज कल्याण की ओर से अवगत करवाया गया कि जिले में वर्तमान में 20,114 पात्र व्यक्तियों को सामाजिक सुरक्षा पैंशन प्रदान की जा रही है। इनमें से 20,000 पैंशनरों के खाते विभिन्न डाकघरों में खोले जा चुके हैं।
मुख्य सचिव ने निर्देश दिए कि सभी पैंशनरों के खाते शीघ्र खोले जाएं तथा यह सुनिश्चित बनाया जाए कि सभी को सामाजिक सुरक्षा पैंशन समय पर प्राप्त हो। उन्होंने निर्देश दिए कि 0-5 वर्ष आयु वर्ग के बच्चों के आधार कार्ड शतप्रतिशत बनाए जाएं।
उन्होंने शिक्षा विभाग को निर्देश दिए कि सभी विद्यालयों में छात्र तथा छात्राओं के लिए अलग-अलग शौचालय निर्मित किए जाएं तथा विद्यालयों में पीने के पानी की उपलब्धता सुनिश्चित हो। उन्होंने निर्देश दिए कि मध्याह्न भोजन योजना में भोजन की गुणवत्ता एवं साफ-सफाई सुनिश्चित हो।
वी.सी. फारका ने कहा कि महत्वकांक्षी कौशल विकास भत्ता योजना में लाभार्थियों को प्राप्त रोजगार का अनुश्रवण किया जाए। अभी तक सोलन जिले में लगभग 8 करोड़ रुपये व्यय कर 10,546 बेरोजगार युवाओं को प्रशिक्षित किया गया है।
मुख्य सचिव ने कहा कि सोलन जिले में बेमौसमी सब्जियों के उत्पादन के साथ-साथ नकदी फसलों की व्यापक संभावनाएं हैं। उन्होंने विभाग को निर्देश दिए कि जिले में किसानों को अधिक से अधिक संख्या में पॉलिहाउस लगाने के लिए प्रेरित किया जाए तथा इनसे होने वाले लाभ एवं लाभान्वित किसानों का पूरा ब्यौरा एकत्र किया जाए। बैठक में जानकारी दी गई कि जिले में अभी तक 25 हैक्टेयर क्षेत्र में पॉलिहाउस स्थापित किए गए हैं।
वी.सी. फारका ने खाद्य एवं आपूर्ति विभाग को निर्देश दिए कि जिले के सभी राशनकार्ड धारकों को डिजिटल राशनकार्ड शीघ्र उपलब्ध करवाए जाएं तथा यह सुनिश्चित बनाएं कि डिजिटल राशनकार्ड की त्रुटियों को ठीक किया जाए। उन्होंने ग्रामीण विकास विभाग को निर्देश दिए कि महात्मा गांधी राष्ट्रीय रोगार गारंटी योजना का भुगतान समय पर हो।
उन्होंने वर्तमान मॉनसून सीजन के दौरान जिले में हुए नुकसान की समीक्षा भी की। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन यह सुनिश्चित बनास कि वर्षा के कारण बाधित हुए मार्गों एवं पेयजल एवं सिंचाई योजनाओं तथा योजनाओं को यथाशीघ्र आरम्भ किया जाए। बैठक में जानकारी दी गई कि सोलन जिले में अभी तक वर्तमान मौनसून सीजन में लगभग 37 करोड़ रुपये का नुकसान आंका गया है।
मुख्य सचिव ने सभी विभागों को निर्देश दिए कि मुख्यमंत्री द्वारा की गई घोषणाओं और शिलान्यास कार्यों को निर्धारित समयावधि में पूरा किया जाए। उन्होंने इस संदर्भ में की गई विभिन्न घोषणाओं और शिलान्यासों की समीक्षा भी की।
उपायुक्त सोलन राकेश कंवर ने मुख्य सचिव का स्वागत किया तथा उन्हें जिले के विकास एवं विभिन्न निर्माणाधीन योजनाओं की विस्तृत जानकारी प्रदान की।
मंडलायुक्त शिमला डा.आर.एन. बत्ता, पुलिस अधीक्षक मोहित चावला, अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी संदीप नेगी, बददी-बरोटीवाला-नालागढ़ विकास प्राधिकरण के मुख्य कार्यकारी अधिकारी आदित्य नेगी तथा विभिन्न विभागों के वरिष्ठ अधिकारी बैठक में उपस्थित थे।

Have something to say? Post your comment