Apna Himachal

पंचायती राज संस्थाओं को राज्य बजट से इस वर्ष 270 करोड़ रुपये प्रदान ग्राम पंचायत राजपुरा तथा प्लासीकलां में विशेष प्रचार अभियान

July 25, 2017 02:44 PM

बाड़ीधार:

सूचना एवं जन सम्पर्क विभाग के कलाकारों ने लोगों को बताया कि प्रदेश सरकार इस वर्ष जिला परिषद, पंचायत समितियों तथा ग्राम पंचायतों को 270 करोड़ रुपये राज्य बजट से उपलब्ध करवा रही है। 14वें वित्तायोग की संस्तुति के अनुरूप वर्ष 2017-18 में 352 करोड़ रुपये भी लोकतंत्र की इन बुनियादी इकाईयों को उपलब्ध करवाए जा रहे हैं। इस राशि से ग्राम पंचायत स्तर पर ही विकास के अनेक काम संभव हो रहे हैं। प्रदेश सरकार पहले ही अनेक विभागों की शक्तियां ग्राम पंचायतों को हस्तांतरित कर चुकी है।

गांव के सतत् एवं सम्पूर्ण विकास के लिए प्रदेश सरकार जिला परिषद, पंचायत समितियों तथा ग्राम पंचायतों को आर्थिक रूप से सशक्त करने पर बल दे रही है। यह जानकारी आज नालागढ़ विधानसभा क्षेत्र की ग्राम पंचायत राजपुरा तथा प्लासीकलां में विशेष प्रचार अभियान के तहत पूजा कलामंच बाड़ीधार के कलाकारों द्वारा दी गई।

लोगों को बताया गया कि पंचायती राज के चुने हुए प्रतिनिधियों को प्रशिक्षण उपलब्ध करवाने पर भी विशेष बल दिया जा रहा है। कांगड़ा जिले के बैजनाथ तथा मण्डी जिले के थुनाग में पंचायती राज प्रशिक्षण संस्थाओं क निर्माण पर लगभग 16 करोड़ रुपये खर्च किए गए हैं। शिमला जिले के मशोबरा में भी पंचायत राज प्रशिक्षण संस्थान पर 11 करोड़ रुपये खर्च हुए हैं। यह सुनिश्चित बनाया जा रहा है कि पंचायती राज प्रतिनिधियों को विभिन्न विषयों की सारगर्भित जानकारी प्रशिक्षण में मिल सके ताकि वे दक्षता के साथ ग्राम पंचायतों में विकास एवं वित्तीय शक्तियों का प्रयोग कर सकें। शीघ्र ही प्रदेश सरकार निर्वाचित प्रतिनिधियों के लिए वित्तीय साक्षरता प्रशिक्षण भी आरम्भ करेगी।
 

पूजा कलामंच बाड़ीधार के कलाकारों ने लोगों को बताया कि प्रदेश सरकार ने पंचायती राज संस्थाओं के निर्वाचित प्रतिनिधियों के दैनिक भत्ते में 50 प्रतिशत की वृद्धि की है। पंचायत सहायकों के 200 पद और भरे जा रहे हैं। इन सब निर्णयों से सशक्त पंचायतों के निर्माण में सहायता मिल रही है। इस अवसर पर प्रधान ग्राम पंचायत प्लासीकलां के प्रधान अवतार सिंह, ग्राम पंचायत राजपुरा के उप प्रधान परमजीत सिंह, ग्राम पंचायत प्लासीकलां के उप प्रधान रामलाल, वार्ड सदस्य जयपाल, रघुवीर सिंह, कमलेश कुमारी, प्यारो देवी, सीता देवी, सज्जन सिंह, सुच्चा सिंह, सुनिता, कुलविन्दर कौर, बिमला, गीता, अवतार सिंह, सर्वजीतकौर, घनश्याम, इन्दू, कमली देवी, पंचायत सचिव गोपाल सिंह, सुनिल कुमार, मनरेगा सहायक जितेन्द्र सहित ग्रामीण उपस्थित थे।

Have something to say? Post your comment