National

प्रदेश की सभी पेयजल योजनाओं में स्थापित किए जा रहे जल उपचार संयंत्र

July 13, 2017 11:31 AM

सोलन:

उन्होंने लोगों को जानकारी दी कि सोलन जिला में गत साढ़े चार वर्षों में सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य विभाग द्वारा विभिन्न योजनाओं पर लगभग 90 करोड़ रुपये खर्च किए गए हैं। इस दौरान सोलन जिले में 550 बस्तियों को स्वच्छ पेयजल उपलब्ध करवाया गया है। इस कार्य पर लगभग 63 करोड़ रुपये खर्च किए गए हैं।

प्रदेश सरकार राज्य की सभी पेयजल योजनाओं में जल उपचार संयंत्र स्थापित कर रही है ताकि प्रदेशवासियों को स्वच्छ एवं सुरक्षित जल उपलब्ध हो सके। यह जानकारी आज यहां प्रदेश योजना विभाग द्वारा चलाए जा रहे विशेष प्रचार अभियान के दौरान सोलन जिले की ग्राम पंचायत नौणी मझगांव तथा ग्राम पंचायत आंजी के गांव शलाणू में दी गई।
सूचना एवं जन सम्पर्क विभाग से सम्बद्ध हिम सांस्कृतिक दल टूटीकंडी शिमला के कलाकारों ने लोगों को बताया कि प्रदेश सरकार ने वर्ष 2016-17 में 166 पेयजल आपूर्ति योजनाओं को पूरा करने के लिए 25 करोड़ रुपये की अतिरिक्त राशि उपलब्ध करवाई। इससे 1277 और बस्तियों को स्वच्छ पेयजल उपलब्ध हुआ। वर्ष 2017-18 में 160 पेयजल आपूर्ति तथा 70 सिंचाई योजनाओं को पूरा करने पर क्रमशः 100 करोड़ एवं 60 करोड़ रुपये खर्च किए जा रहे हैं।
प्रदेश सरकार सभी को स्वच्छ पेजयल एवं खेतों को सिंचाई सुविधा उपलब्ध करवाने की दिशा में निरन्तर प्रयासरत है। सघन प्रयासों से प्रदेश के सभी गांवों को पेयजल सुविधा उपलब्ध है। सभी बस्तियों को सुविधा उपलब्ध करवाने के लिए योजना प्रगति पर है। इसी वित्त वर्ष में 670 करोड़ रुपये की एक नई पेयजल योजना आरम्भ की जाएगी, जिससे विभिन्न बस्तियों को पेयजल उपलब्ध करवाया जाएगा। इस वित्त वर्ष में सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य विभाग द्वारा 2238 करोड़ रुपये खर्च किए जायेंगे।

उन्होंने लोगों को जानकारी दी कि सोलन जिला में गत साढ़े चार वर्षों में सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य विभाग द्वारा विभिन्न योजनाओं पर लगभग 90 करोड़ रुपये खर्च किए गए हैं। इस दौरान सोलन जिले में 550 बस्तियों को स्वच्छ पेयजल उपलब्ध करवाया गया है। इस कार्य पर लगभग 63 करोड़ रुपये खर्च किए गए हैं।
लोगों को जानकारी दी गई कि प्रदेश सरकार ने पंचायतों को विभिन्न शक्तियां प्रदान की हैं। लोगों को सामाजिक सुरक्षा, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण तथा पंचायती राज से जुड़ी विभिन्न योजनाओं की जानकारी प्रदान की गई। लोगों को बताया गया कि जन सहभागिता एवं जवाबदेही के माध्यम से ही सतत् विकास के लक्ष्यों को हासिल किया जा सकता है।
इस अवसर पर ग्राम पंचायत नौणी मझगांव के प्रधान बलदेव ठाकुर, ग्राम पंचायत आंजी के प्रधान गरीब दास सहित लोगों ने भाग लिया। 

Have something to say? Post your comment