National

सरवरी में पहाड़ से गिरने वाले पथरों से सड़क सुरक्षा को लेकर यत्न संस्था के सदस्य उपायुक्त कुल्लू से मिले!

July 12, 2017 03:22 PM
संस्था हमेशा से आम लोगों से जुड़े ज्वलन्त मुद्दों पे बोलती वह प्रशासन वह सरकार को सहयोग करती आई है! संस्था दवारा आम लोगों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए जिला के विधायक,उपायुक्त,पुलिस अधिक्षक,अध्याशी अभियन्ता वह नगर परिषद् अध्यक्ष को पत्र लिख इस महत्वपूर्ण मुद्दे की ओर पत्र दवारा पहले भी कई बार अवगत करवाया है!
आज  संस्था के सदस्य उपायुक्त युनिस खान से इस विषय को लेकर मिले!उपायुक्त से इस विषय को लेकर सोलन चंडीगढ़ हाईवे कि तर्ज पर सुरक्षा नेट लगाकर या जियोलॉजिस्ट से सर्वे करवा कोई उचित हल निकलवाने कि अर्ज की!उपायुक्त कुल्लू ने नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ़ इंडिया वह अन्य किसी एजेंसी से इस विषय को लेकर काम करने का विश्वास दिलाया है!उन्होंने कहा जल्दी हि इस्पे कोई ठोस कदम उठाया जायेगा!
 
 
लेकिन प्रशासन वह शासन कि ओर से कोई भी ठोस कदम इस और नहीं उठाया गया है!यह बात संस्था के अध्यक्ष गौरव भारद्वाज ने एक प्रेस विज्ञप्ति में बताई! उन्होंने  कहा की थोड़े समय बाद बरसात का मौसम आने वाला है जिसमे इस स्थान पे पत्थर गिरने का पूरा खतरा बना रहता है!इस स्थान से गुजरते हुए आम राहगीरों को खौफ का अहसास होता है!यह इस स्थान की संवेदनशीलता को देखते हुए यहाँ पर प्रशासन दवारा कोई बोर्ड भी नहीं लगाया गया है जिसमे लोगों को यहाँ से गुजरते हुए सावधान रहने के लिए कहा गया हो
आज  संस्था के सदस्य उपायुक्त युनिस खान से इस विषय को लेकर मिले!उपायुक्त से इस विषय को लेकर सोलन चंडीगढ़ हाईवे कि तर्ज पर सुरक्षा नेट लगाकर या जियोलॉजिस्ट से सर्वे करवा कोई उचित हल निकलवाने कि अर्ज की!उपायुक्त कुल्लू ने नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ़ इंडिया वह अन्य किसी एजेंसी से इस विषय को लेकर काम करने का विश्वास दिलाया है!उन्होंने कहा जल्दी हि इस्पे कोई ठोस कदम उठाया जायेगा!
 
 
 
आज  संस्था के सदस्य उपायुक्त युनिस खान से इस विषय को लेकर मिले!उपायुक्त से इस विषय को लेकर सोलन चंडीगढ़ हाईवे कि तर्ज पर सुरक्षा नेट लगाकर या जियोलॉजिस्ट से सर्वे करवा कोई उचित हल निकलवाने कि अर्ज की!उपायुक्त कुल्लू ने नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ़ इंडिया वह अन्य किसी एजेंसी से इस विषय को लेकर काम करने का विश्वास दिलाया है!उन्होंने कहा जल्दी हि इस्पे कोई ठोस कदम उठाया जायेगा!
 
भूगोल विषय में शोधार्थी वह यत्न संस्था के कार्यकारी सचिव निशान्त वैद्य का कहना है कि यह स्थान पूर्व में एक ग्लेशियर था जिसके प्रमाण सरवरी वह ढालपुर में मिलने वाले गोल पथरों से लगाया जा सकता सकता है!इन पथरों की पकड़ गोल होने के कारण मिट्टी वह आपस में कम रहती है!यही वजह है की सरवरी में सड़क के साथ यह देखने को मिलते है!यह हिमालय शेत्र   में अति संवेदनशील भूकम्प जोन 5 में आता है, किसी भी भूकम्प के झटके में इस पूरे पहाड़ को जमींदोज होने में बिल्कुल वक्त नहीं लगेगा! 
 
यह विषय बहुत सम्वेदनशील है क्यूंकि इस स्थान के बिल्कुल सामने बस स्टैंड है तथा यह शहर की बहुत व्यस्तम सड़क है!कुल्लू में पुलिस लाइन के बिल्कुल सामने इस तरह की घटना घटित हो चुकी है जिसमे एक पूरी बस पहाड़ के निचे आ  गई थी! ऐसी कोई घटना भविष्य में ना हो इसके लिए कोई ठोस कदम प्रशासन को उठाना पड़ेगा!जिसमे पूरे स्लाइडिंग जोन को नेट लगाके या किसी अन्य तरीके से कवर किया जाए जिससे होने वाले  नुकसान को कम किया जा सके!nhpc जैसे बड़े सगठनों की सहायता इस काम में ली जा सकती है!

पूर्व में कर्मचारी नेता आशू गोएल ने इस बारे में बताया था की इस विषय को पूर्व में रहे उपायुक्त अमिताभ अवस्थी से 2012 में उठाया गया था उन्होंने ने कुछ धन इसके लिए उपलब्ध भी करवाया था परन्तु उसपे कोई काम अभी तक नहीं हुआ है!
  
 
Have something to say? Post your comment